महफिल.

महफिल-क्या-क्या कहूं मैं किशन कन्हैया का बालपन ।

दोस्तों महफिल में आपका स्वागत है,हमारे इस कॉलम आप गीत, कविता, गज़ल, नज्म और शायरी से रूबरू होंगे । आज जन्माष्टमी है, इस मौके पर नजीर अकबराबादी की ये नज़्म खासतौर पर पेश हैं । नजीर उर्दु में नज्म लिखने… Read More ›

Rate this: